कटिहार- आज होगा दुसरे चरण के तहत पंचायत शिक्षकों के लिए नियोजन।

0
226

कटिहार जिले में पंचायत शिक्षकों के लिए नियोजन हेतु दूसरे चरण के तहत नियोजन आज 13 अगस्त को होगा। इसके लिए 10 प्रखंडों में काउंसिलिग कैंप बनाया गया है। जहां संबंधित प्रखंड के 38 पंचायत नियोजन इकाई में रिक्त 173 पदों पर नियोजन के लिए अभ्यर्थी काउंसिलिग में हिस्सा लेंगे। काउंसिलिग की प्रक्रिया पूर्वाह्न 10.30 बजे से अपराह्न छह बजे तक चलेगी।

 सहयोग कि अपील जीवन मांगें अयांश

इस संबंध में डीईओ देवविद कुमार सिंह ने काउंसिलिग को लेकर कैंप स्थल, पंचायत समेत अन्य दिशा- निर्देश जारी किया है। सबसे ज्यादा 12 पंचायत नियोजन इकाई अमदाबाद से एवं सात पंचायत नियोजन इकाई कदवा प्रखंड से है। कटिहार में एक नियोजन इकाई के लिए मध्य विद्यालय बीएमपी सात को काउंसिलिग स्थल बनाया गया है। फलका प्रखंड के तीन पंचायत हथवाड़ा, शब्दा एवं सोहथा उत्तरी के लिए राजकीय बुनियादी विद्यालय फलका हाट, कदवा प्रखंड के सात पंचायत धपरसिया, कुम्हड़ी, महम्मदपुर, भर्री, परभेली, चौनी और तेतलिया के लिए कन्या मवि कुम्हड़ी कदवा, बलरामपुर प्रखंड में दो पंचायत महिशाल एवं लोहागाड़ा के लिए राज्य संपोषित उच्च विद्यालय तेलता बलरामपुर, कोढ़ा प्रखंड के छह पंचायत बहरखाल, बांसगढ़ा, मकदमपुर, बावनगंज, विशनपुर और चंदवा के लिए प्रोजेक्ट कन्या उवि कोढ़ा, आजमनगर के पांच पंचायत मुकुरिया, केलाबाड़ी, महेशपुर, मर्वतपुर और अमरसिंहपुर के लिए आदर्श मवि आजमनगर, बारसोई में एक पंचायत बलतर के लिए उच्च विद्यालय बारसोई, अमदाबाद के पांच पंचायत बैरिया, किशनपुर, पूर्वी करीमुल्लापुर, उत्तरी करीमुल्लापुर एवं दक्षिणी करीमुल्लापुर के लिए मध्य विद्यालय जनता गोपालपुर अमदाबाद, अमदाबाद प्रखंड के ही सात पंचायत भवानीपुर खट्टी, बैदा, पारदियारा दुर्गापुर, चौकिया, पहाड़पुर, जंगलाटाल और लखनपुर के लिए आदर्श मवि अमदाबाद और बरारी प्रखंड के एक पंचायत शिशिया के लिए आदर्श मवि गुरूबाजार को कैंप स्थल बनाया गया है। प्रत्येक नियोजन इकाई में सार्वजनीकृत मेधा सूची एवं अनुमोदित मेधा सूची के आधार पर अभ्यर्थियों को अपने फोटोयुक्त पहचान पत्र के आधार पर काउंसिलिग में उपस्थित होने का अवसर दिया जाएगा। काउंसिलिग स्थल पर अभ्यर्थियों का नाम तीन बार पुकारा जाएगा। काउंसिलिग केंद्र का वेबकास्टिग भी होगा। इसकी सारी जिम्मेदारी संबंधित प्रखंड के बीआरसी के डाटा इंट्री आपरेटर की होगी। सभी नियोजन इकाई चयनित अभ्यर्थियों के सभी मूल प्रमाण पत्र का मिलान करते हुए मेधा गणना के उपरांत टीईटी एवं प्रशिक्षण प्रमाण पत्र मूल रूप में रखते हुए शेष मूल प्रमाण पत्र अभ्यर्थियों को वापस किया जाना है। काउंसिलिग के क्रम में यदि कोई अभ्यर्थी अपना दावा वापस लेना चाहता है तो उनके स्वघोषणा पत्र के आधार पर प्रशैक्षणिक एवं टीईटी का मूल प्रमाण पत्र वापस किया जा सकता है। काउंसिलिग पूर्ण होने के पश्चात अभ्यर्थियेां की उपस्थिति में पंजी को नियोजन इकाई के सदस्य सचिव द्वारा क्लोज किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here