मधेपुरा – चावल का बोड़ा बेच कर शिक्षकों ने जताया विरोध।

0
200

मधेपुरा – बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप कुमार पप्पू के आह्वान पर शुक्रवार को शिक्षक संघ के अध्यक्ष संजय कुमार संजीव के नेतृत्व में मध्याह्न भोजन योजना के बोरे बेचने का स्टाल लगाया। इस मौके पर मध्याह्न भोजन योजना का बोरे बेचकर सरकार की नीति और निर्देश का विरोध किया।
इस अवसर पर संघ के जिला सचिव भुवन कुमार ने कहा कि सरकार के विभागीय आदेश के आलोक में कटिहार जिले के शिक्षक मु.तमीजउद्दीन बोरा बेच रहे थे। सरकार ने शिक्षकों को शिक्षण कार्य के साथ-साथ अनेकों गैर शैक्षणिक कार्य करवाती है और उसी में शिक्षक पर कार्रवाई कर परेशान भी करती है। उन्होंने कहा कि सरकार शिक्षक मु.तमीजउद्दीन के विरूद्ध की गई कार्रवाई को वापस ले और मध्याह्न भोजन समेत अन्य गैर शैक्षणिक कार्य से शिक्षकों को मुक्त करे। ऐसा नहीं करने पर शिक्षक संघ द्वारा अनवरत विरोध प्रदर्शन व अन्य कार्य किए जाएंगे।

वहीं शुक्रवार को आलमनगर के बीआरसी चौक परभी बोरा बेचो कार्यक्रम के तहत शिक्षकों ने बोरा बेचकर सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रखंड अध्यक्ष मुकेश कुमार ने किया। इस दौरान उपस्थित लोगों व शिक्षकों को प्रखंड अध्यक्ष मुकेश कुमार ने कहा कि मध्यान्ह भोजन योजना के निर्देशक अपने आदेश में वित्तीय वर्ष 2014-1515 -16 का खाली बोरा बेचकर खाते में राशि जमा करने का निर्देश दिया जो सरासर गलत है।
साथ ही गम्हरिया प्रखंड कार्यालय परिसर में भी बिहार राज्य प्रारम्भिक शिक्षक संघ के प्रखंड अध्यक्ष अशोक कुमार के नेतृत्व में कटिहार जिला में संघ के जिलाध्यक्ष मु. तमीज उद्यीन पर विभाग के तुगलकी फरमान पर कारवाई के खिलाफ सभी शिक्षक बोरा बेचो अभियान का विरोध प्रदर्शन कर शिक्षक विरुद्ध दमनात्मक कारवाई को वापस लेने की मांग की है।
इस मौके पर प्रखंड अध्यक्ष संजय कुमार संजीव, प्रखंड सचिव रविद्र कुमार रवि, कोषाध्यक्ष विकास कुमार सिंह, नंदन निराला, नरेश्वर रजक, संजय कुमार सिंह, रेखा कुमारी, बिहारी सरदार, शैलेंद्र कुमार, मु. अफरोज, रविद्र कुमार पंडित, त्रिलोक कुमार, मु.सलाउद्दीन, दिनेश कुमार, अरविद कुमार, धीरज कुमार, जयप्रकाश कुमार, रामविलास कुमार, सुबोध कुमार, धीरज कुमार, नरेश कुमार महाराणा, संजय कुमार संजीव, संजीव कुमार सुमन, देव आनंद यादव सहित बड़ी संख्या में शिक्षक उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here