सहरसा-लाखों की लागत से बना पुल बेकार, पुल के ध्वस्त पहुंच पथ से बिजुलिया एवं अमौजा गांव का आज भी टूटा है संपर्क।

0
248

पुल के ध्वस्त पहुंच पथ से बिजुलिया एवं अमौजा गांव का आज भी टूटा है संपर्क
सितंबर – अक्टूबर में बारिश से सुरसर नदी पर बने पुल का बहा था पहुंच पथ

दोनों ओर की बड़ी आबादी को आवागमन में हर दिन हो रही परेशानी

सहरसा सोनवर्षाराज – बीते वर्ष के सितंबर – अक्टूबर मह में क्षेत्र में हुई भारी बारिश से पूर्वी भाग स्थित सुरसर नदी पर बने उच्च स्तरीय पुल का पहुंच पथ बह गया था।इस वजह से मोकमा पंचायत के बिजुलिया एवं अमौजा गांव का सीधा सम्पर्क भंग हो गया।जो अब तक अधुरा पड़ा हुआ है पहुंच पथ के ध्वस्त हुए दस महीने बाद भी एक बड़ी आबादी की आवगमन की समस्या बनी हुई है।पहुंच पथ के ध्वस्त होने के साथ ही पुल का दाहिना पंख भी किय क्षतिग्रस्त हो गया है , यदि जल्द टूटे हु पहुंच पथ के निर्माण के साथ नहीं क्षतिग्रस्त पंख की मरम्मती नहीं की गई तो उसके पूरी तरह ध्वस्त होने की पुरी संभावना है।

स्थानीय ग्रामीणों के अनुसार वर्ष 2014 में प्रारंभ इस पुल का पूरी तरह निर्माण 6 वर्ष में भी नहीं किया जा सका है  कियोंकी के ध्वस्त हुए पहुंच पथ का पक्कीकरण नहीं होने के कारण ही नदी के बहाव पनी का दबाव नहीं झेल सकी और निर्माण एप्रोच पथ ध्वस्त हो गया । बताते चलें कि वर्षों से अर्द्धनिर्मित इस उच्च स्तरीय पुल की एप्रोच पथ की लागत 78.30 लाख है जबकि पुल की कुल लागत 289.30 लाख की है । बाबजूद विभाग के उदासीनता के कारण करोड़ों रुपए खर्च के बाद भी देनों किनारे का पहुंच पथ अधूरा ही है । इसका  निर्माण मेसर्स सोना कन्शट्रकंशन सुपोल द्वारा किया गया है । अगर सहमत इसकी मरम्मती नहीं की गई तो इस साल भी आनेवाली वर्षा के मौसम में लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here