सहरसा – एक साथ दो शव पहुंचते ही गांव में मचा कोहराम, दो मासूम बच्चों ने दिया अपने पिता को मुखाग्नि, देखने वालों की आंखें हुईं नम।

0
480

एक साथ दो शव पहुंचते ही गांव में मचा कोहराम, दो मासूम बच्चों ने दी पिता को मुखाग्नि।

गजेन्द्र कुमार ( सहरसा) सोनवर्षा राज – यूपी के बाराबंकी में हुए सड़क हादसे में बिहार के 18 लोगों की मौत हो गई वहीं सोनवर्षाराज प्रखंड क्षेत्र के जलसीमा गांव ने दो कमाऊ पुत्र को खोया है। मंगलवार आधी रात हादसे के बाद जलसीमा के दो मजदूर लोगों की दर्दनाक मौत की खबर जैसे गांव में पहुंची कोहराम मच गया। परिजनों की चीत्कार से माहौल गमगीन हो गया। वहीं दुर्घटना में गांव के ही एक मज़दूर वर्ग के लोग के जख्मी होने की सूचना से भी लोग आहत हुए। वहीं गुरुवार को दोपहर जैसे ही दो मृतक का शव गांव पहुंचा परिजनों में कोलाहल मच गया।


शव को एक नजर देखने को लोग बैचेन थे शव के पास हो रहे क्रंदन की आवाज सुनाकर लोगों की आंखे नम हो रही थी। एक साथ दो लोगों के शव को देखने वाले की भीड़ लग गई। मृतक मजदूर सिकेंदर मुखिया अपने घर का इकलौता कमाऊ पुत्र था। उसके ऊपर पत्नी सीता देवी सहित दो पुत्र और एक पुत्री के पालन पोषण की जिम्मेदारी थी। वही मृतक अखिलेश कुमार छह भाइयों में सबसे बड़ा और घर का कमाऊ सदस्य था। कमाऊ सदस्यों के गुजर जाने से परिवार पर आर्थिक संकट की मार पड़ी है। दोनों मृतकों का अंतिम संस्कार किया  गया।

जिसमें सिकंदर मुखिया को मुखाग्नि उनके(6 वर्षीय) पुत्र रणवीर कुमार एवं अखिलेश कुमार को पुत्र (7 वर्षीय) सौरभ कुमार ने मुखाग्नि दी। इन मासूम बच्चों के शरीर पर उजले कपड़े व हाथों में अग्नि लेकर देखते सभी लोगों की आंखें नम हो जाती। वही में दोनों मृतकों के शव वीडियो कैलाशपति मिश्र के देखरेख में लाकर परिजनों को सौंपा गया साथ ही एसडीओ शंभूनाथ झा ने जल्द ही सरकार द्वारा घोषित अनुदान राशि देने की बात कही। मालूम हो कि दोनों मृतकों विराटपुर पंचायत के जलसीमा गांव निवासी सिकंदर मुखिया, अखिलेश कुमार और राजेश मुखिया कमाने के लिए फरवरी में मजदूरी करने हरियाणा गये थे। चार महीने तक हरियाणा मंडी में मजदूरी के बाद ये सभी धान रोपनी का काम करने लगे। जब धान रोपनी भी खत्म हो गयी तब डबल डेकर बस पर सवार होकर सभी अपने गांव जलसीमा लौट रहे थे। लेकिन मंगलवार रात हादसा हो गया जिसमें बस पर सवार सिकंदर मुखिया और अखिलेश कुमार की मौत हो गई। वहीं राजेश मुखिया गंभीर रूप से जख्मी हो गया। वहीं इस घटना के बाद मजदूरों के परिजनों से लोजपा नेत्री सरिता पासवान सहित अन्य कई लोगों ने मुलाकात कर हर संभव सहयोग करने की बात कही।

मृतक के परिजन व बच्चे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here