सहरसा – ससुर का समपिंडन कर्म हुआ भी नहीं कि पतहु की निकल गई अर्थी। ।

0
676

ससुर का समपिंडन कर्म हुआ भी नहीं कि पतहु की हुई मौत ।

इसी घर में चूल्हे में चौका लगाते समय लगी थी बिजली की करंट ओर हो गई मौके पर ही मौत।

गजेन्द्र कुमार सोनवर्षा राज सहरसा – स्थानीय थाना क्षेत्र के दुअनिया गांव में बिजली करेंट लगने से एक महिला की हुई मौत। मालूम हो कि दुअनियां गांव वार्ड नं 16 निवासी सुखदेव ठाकुर की किसी कारण वश विते 22 मई को मृत्यु हो गई जिसका की मंगलवार को नखवाल व बुधवार को श्राद्ध का कर्म हुआ था। और आज गुरुवार को( तेरहवीं ) यानी समपिंडन कार्यक्रम होना था।जिसको लेकर मृतक की छोटे बेटे ललित ठाकुर का 48 वर्षीय धर्म पत्नी संजु देवी अपने आंगन घर मैं चौका लगा रही थी की उसी वक्त पंखे से लगा बिजली तार के संपर्क में आ गई जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।पिता का हल्का लिए बड़े पापा के साथ छ:मासूम बच्चियां।

यह घटना गुरुवार की सुबह 7:00 बजे की बताई जा रही है जब घर संपीडन कार्यक्रम की तैयारी चल रही थी सभी मेहमान व सगे संबंधियों से आंगन भरा पड़ा था उसी वक्त उक्त घटना हो गई की ससुर का समपिंडन कार्यक्रम भी नहीं हुई और पतहु की मौत हो गई। इस घटना के बाद आसपास के माहौल पूरा शोकमय गमगीन हो गया। बताया जा रहा है कि मृतिका संजू देवी को 6 बेटियां ही थी जिसे वह संसार में छोड़कर चल बसी ।वही मृतिका के पति ललित ठाकुर बाहर भीतर मजदुरी कर परिवार चलाता था।

श्राद्ध कर्म के लिए लगा हुआ टेंनट व बनाई गई अर्थी

अब उस परिवार के सामने और भी विकट समस्या उत्पन्न हो गई है हालांकि घटना की जानकारी स्थानीय सोनवर्षा थाना को दी गई।मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पोस्टमॉर्टम करा कर परिजनों को शव सौंप दिया है। उधर परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।

मृतिका संजू देवी की फाइल फोटो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here